कोरोना जैसी महामरी से मुक्त कराने के लिए छठव्रतियों ने मांगी दुआएं

सूर्यषष्ठी चैती छठ पूजा का आज तीसरा दिन अस्तचालगामी भास्कर को छठव्रतीयों ने कुछ नए अंदाज में आर्घ्य दी , यह नजारा पटना सिटी का है जहाँ कोरोना वायरस और लॉक डाउन के मध्य नजर छठ व्रतियों ने अपने परिवार के साथ छत के ऊपर गंगा माँ के रूप के के तर्ज  पर  स्विमिंग पूल बनाकर उसमें पानी और गंगा जल भरकर  भगवान भास्कर को आर्घ्य दिया।वहीं परिजनों और श्रद्धालुओं नें दूरी बनाकर दूध और जल अर्पित किया गया । वहीं श्रदालुओं द्वारा बनाये गए स्विमिंग पुल के पास  कोरोना को लेकर  पोस्टर लगाकर एक दुसरे को संदेश भी दिया की घर में रहें तभी कोरोना हारेगा. वहीं छठव्रती तनुजा देवी  बताती है की लोक आस्था का चैती छठ महापर्व  हमने इस बार गंगा घाट पर न जाकर अपने घर में की हूँ जिसका करना है की सरकार द्वारा कोरोना जैसी बीमारी से बचाव के लिए पुरे देश में लॉक डाउन किया गया है, इसलिए  हम आपने परिजनों के साथ घर में ही छठ महापर्व की पूजा आर्चना की.

वहीं दूसरी तरफ छठ व्रतियों ने अस्तचाल गमी सूर्य को आर्घ्य देकर देश से कोरोना जैसी महामारी से मुक्त कराने के लिए दुआएं मांगी।
चार दिनों तक चलने वाला  चैती महापर्व छठ पूजा का समापन छठव्रती उगते हुए भगवान भास्कर को आर्घ्य देकर करेंगी और अपनी निर्जला व्रत को समाप्त करेंगी।

आपको बताते चले की पूरा देश कोरोना जैसी महामारी की चपेट में है जिसे लेकर पुरे देश में  लॉक डाउन किया गया है .जिससे इस साल छठ व्रतियों को गंगा घाट पर जाने से रोक लगा दिया गया था जिसे लेकर छठ व्रतियों ने लॉक डाउन के नियमों का पालन करते हुए अपने घर में ही भगवान भास्कर की पूजा आर्चना की और अपने परिवार समेत कोरोना जैसी महामारी से देश को बचाने के लिए कामना की .

.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here