एनीमिया कुपोषण से समाज को मुक्त कराना पोषण अभियान के द्वारा

पटना (बिहार)–राष्ट्रीय पोषण अभियान अंतर्गत जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक हिंदी भवन सभागार में जिलाधिकारी श्री कुमार रवि की अध्यक्षता में संपन्न हुई।

पोषण अभियान का मुख्य उद्देश्य स्वस्थ, स्वच्छ एवं सुंदर समाज का निर्माण करना तथा एनीमिया कुपोषण से समाज को मुक्त करना है। इसके तहत 2% एनीमिया को कम करना 2% कुपोषण दर को कम करना तथा 2% कम वजन जन्म लिए बच्चों का दर कम करना है।

इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए मुख्यता व्यवहार में परिवर्तन लाने तथा लोगों के बीच जन जागरूकता अभियान कायम करने की आवश्यकता पर बल दिया गया।

पोषण अभियान के अंतर्गत आशा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा समुदाय को विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से यथा- हाथों की नियमित सफाई, जन्म के 1 घंटे के अंदर स्तनपान को प्रोत्साहित करना, शौचालय का नियमित प्रयोग करना आदि शामिल है।

जिलाधिकारी ने अति कुपोषित बच्चों की पहचान करने हेतु पोषक क्षेत्रों में आंगनवाड़ी वर्कर द्वारा सर्वेक्षण करने की आवश्यकता पर बल दिया।

साथ ही अन्य विभागों यथा आपूर्ति विभाग, शिक्षा विभाग स्वास्थ्य विभाग, स्वच्छता आदि का परस्पर समन्वय एवं सहयोग के माध्यम से बच्चों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकती हैं।

खाद्य सुरक्षा अधिनियम का शत प्रतिशत लाभ लाभुकों को मिलने से भी कुपोषण की दर को कम किया जा सकता है। संतुलित आहार की आवश्यकता पर बल दिया गया।

बैठक में उप विकास आयुक्त श्री रिची पांडे, सिविल सर्जन डॉ राजकिशोर चौधरी , निदेशक जिला ग्रामीण विकास अभिकरण श्री अनिल कुमार जिला प्रोग्राम पदाधिकारी आईसीडीएस श्रीमती भारती प्रियंवदा सहित कई अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here