प्रेमिका के परिजनों ने प्रेमी युवक का किया निर्मम हत्या

सुपौल (बिहार)- एक बार फिर एक युवक को प्यार करना पड़ा महंगा जी हां यह हकीकत है यह पूरा मामला  बिहार के  सुपौल जिला का है  जहां प्रेमिका के परिजनों ने प्रेमी का गला रेतकर कर  दिया  निर्मम हत्या ।इस हत्या से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है ।

पूरा मामला  सुपौल  जिला का है जहाँ एक प्रेमिका ने  अपने प्रेमी को  फोन कर बुलाया था लेकिन जब  प्रेमिका के घरवालों ने उनदोनो को रंगे हाथ दबोचा तो प्रेमिका के परिजनों ने प्रेमी की निर्मम हत्या कर शव को ठिकाना लगा दिया हांलाकि मृतक के परिजनों के आवेदन पर राघोपुर थाने की पुलिस ने  तहकीकात कर प्रेमिका सहित उसके माँ- बाप को हत्याकांड में गिरफ़्तार कर लिया है।

यह सनसनीखेज मामला राघोपुर थाना क्षेत्र का है। जहाँ सोमवार की सुबह करीब 10 बजे राघोपुर थाना इलाके के चिलौनी पलार पर नवनिर्मित सुधीर साह की पोखर से ग्रामीणों की सहयोग से एक शव को बरामद किया गया जिसकी पहचान रामविशनपुर पंचायत के हुसैनाबाद वार्ड नंबर 11 निवासी 25 वर्षीय लालदेव मंडल के रूप शिनाख्त हुई। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि शनिवार की देर रात्रि से ही अपने घर से लालदेव मंडल गायब था जिसको लेकर रविवार को दिन भर परिजनों के द्वारा खोजबीन करने के बाद जब युवक का पता नहीं चला तो परिजनों ने रविवार की देर शाम राघोपुर थाने की पुलिस को एक लिखित आवेदन देकर मामले की जानकारी देते उसके हत्या हो जाने की आशंका व्यक्त किया। वही सूचना पर जब राघोपुर थानाध्यक्ष सरोज कुमार ने मामले की छानबीन करना शुरू किया तो मामले के परत दर परत खुलने लगे। छानबीन के दौरान में मृतक के परिजनों ने बताया कि शनिवार की रात्रि करीब 11 बजे हरीपुर पंचायत के फुलकाही गांव निवासी बासुदेव मंडल की 18 वर्षीय बेटी ने मृतक युवक को फोन कर अपने घर बुलाया था। वही बासुदेव मंडल की पुत्री ने मृतक के एक मित्र को रात्रि के करीब एक बजे फोन कर बताई की उसका भाई ने अपने ही घर में उन दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में रंगे हाथ पकड़ लिया। उसके बाद उनके दो भाई पप्पू कुमार और ओम कुमार ने लालदेव मंडल को मारते हुए घर के पीछे ले गया है। लड़की ने उसे यह भी बताई की आप आइए और उसके लिए एक कपड़ा भी ले लीजियेगा क्योकि लालदेव ने भागने के क्रम में कपड़ा नहीं पहन सका वह शिर्फ जांघिया पहनकर ही घर से भागा है। भागने के क्रम में घर के पीछे खदेड़कर उसका दोनों भाई उसे पकरकर उसका पिटाई करते हुए घर से पश्चिम दिशा भेंगा धार की तरफ ले गया है। वही इस बात की पुष्टि तब हुई जब मृतक लालदेव के मित्र एवं लड़की की आपस की वार्तालाप उसके मोबाइल फोन में रिकॉर्ड हो गया। उस रिकॉर्ड के आधार पर राघोपुर थानाध्यक्ष ने पुलिस बल के साथ लड़की के घर पहुचकर लड़की के साथ साथ लड़की के माता एवं पिता से मामले को लेकर पूछताछ किया तो उनलोगों ने मामले से अनभिज्ञता बताया। वही जब आरोपी दोनों लड़का के बारे में पूछा गया तो गांव में ही रहने की बात बताया। लेकिन ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस को देख आरोपी दोनों लड़का ने अपने घर से भाग गया। उसके बाद घटना को लेकर पुलिस की आशंका और गहरा गया। जिस कारण राघोपुर पुलिस ने लड़की सहित लड़की के माता पिता को पकरकर पूछताछ करने के लिए राघोपुर थाना ले आया। जहाँ काफी पूछताछ के क्रम लड़की सहित उसके परिजनों ने बताया कि लालदेव को पप्पू एवं ओम ने हत्या कर भेंगा धार से पश्चिम एक पोखर में देकर मिट्टी से दबा दिया गया है। वही लड़की एवं उनके परिजनों के निशानदेही के आधार पर पुलिस ने रविवार की रात भर भेंगा धार से पश्चिम चिलोनी पलार पर शव की तलाशी के लिए खाक छानती रही लेकिन कुछ पता नहीं चला। सोमवार की सुबह पुलिस ने पुनः शव की तलाशी के लिए ग्रामीणों की सहयोग से चिलौनी पलार पर पहुँचकर तलाशी में जुट गया। काफी तलाश करने पर सोमवार को एक निवनिर्मित तालाब से उसका मृत अवस्था मे शव बरामद किया गया। हांलाकि सुपौल पुलिस अधीक्षक ने मामले का उद्भेदन किया और राघोपुर थाने में प्रेमिका और उसके माँ बाप को गिरफ़्तार कर लिया है वही आरोपी दोनों भाइयो को भी पुलिस ढूढ़ने में लगी है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here